प्रिंटर का उपयोग कैसे करें

प्रिंटर से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां

प्रिंटर

जहां एक तरफ कई व्यक्ति, स्कूल और व्यवसाय कागज़ रहित होने की कोशिश कर रहे हैं, वहीं प्रिंटर सबसे अधिक इस्तेमाल किये जाने वाले आउटपुट उपकरणों में से एक बना हुआ है। आप शायद एक प्रिंटर का उपयोग गृह कार्य करने, तस्वीरें बनाने और वेब पेजेस को प्रिंट करने के लिए करते होंगे। प्रिंटर उस जानकारी का अनुवाद करता है जो सिस्टम यूनिट द्वारा संसाधित की गई होती है और उस जानकारी को कागज़ के ऊपर प्रस्तुत करता है। प्रिंटर के आउटपुट को अक्सर हार्ड कॉपी कहा जाता है।

विशेषताएं

प्रिंटर कई अलग-अलग प्रकार के होते हैं। हालांकि लगभग सभी में रिजोल्यूशन, रंग की क्षमता, गति स्मृति और ड्यूप्लैक्स प्रिंटिंग सहित कुछ बुनियादी खास विशेषताएं शामिल होती हैं।

  • किसी प्रिंटर का रिज़ोलुशन मॉनिटर के रिजोल्यूशन के सदृश्य ही होता है। यह उत्पादित इमेक्स की स्पष्टता का एक परिमाण है। वैसे, प्रिंटर के रेजोल्यूशन को डीपीआई (डॉट्स प्रति इंच) में मापा जाता है। अधिकांश निजी इस्तेमाल किये जाने वाले प्रिंटर को औसतन 1200 गुना 4800 डीपीआई के लिए तैयार किया गया होता है। जितना अधिक डीपीआई होगा, उत्पादित इमेज्स की गुणवत्ता उतनी ही बेहतर होगी।
  • रंगों की क्षमता आज अधिकांश प्रिंटरों द्वारा प्रदान की जाती है। उपयोगकर्ता के पास आमतौर पर या तो सिर्फ काली स्याही के साथ या रंगों के साथ प्रिंट करने का विकल्प मौजूद है। चूँकि रंगों में प्रिंट करना अधिक महंगा होता है, इसलिए अधिकांश उपयोगकर्ता पत्र, ड्राफ्ट, और होमवर्क के लिए काली स्याही का चयन करते हैं। चयन की जाने वाली सबसे आम काली स्याही ग्रेस्केल है, जिसमें छवियों को भूरे रंग के कई शेड का उपयोग कर प्रदर्शित किया जाता हैं। ग्राफिक्स और तस्वीरों वाली अंतिम रिपोर्ट के लिए अधिक चुनिंदा रंगों का प्रयोग किया जाता है।
  • गति को प्रति मिनट प्रिंट पेजों की संख्या में मापा जाता है। आमतौर पर, निजी इस्तेमाल के लिए प्रिंटर औसत एकल रंग (काला) के उत्पादन के लिए 15 से 19 पेज प्रति मिनट और रंगीन उत्पादन के लिए 13 से 15 पेज प्रति मिनट लेते हैं।
  • एक प्रिंटर के भीतर स्थित मैमोरी का प्रयोग प्रिंटिंग निर्देश और प्रिंट करने के लिए इंतजार करने वाले डॉक्यूमेंट का भंडारण करने के लिए किया जाता है। जितनी अधिक मैमोरी होगी, वह उतनी ही तेजी से बड़े-बड़े डॉक्यूमेंट को प्रिंट करने में सक्षम होगी।
  • ड्यूप्लैक्स प्रिंटिंग कागज के दोनों पेजों पर स्वचालित प्रिंट करने की सुविधा देती है। हालांकि वर्तमान में यह सभी प्रिंटर के लिए एक मानक सुविधा नहीं है, फिर भी भविष्य में इसके मानक होने की संभावना है, कि कागज को व्यर्थ जाने से रोका जा सके और पर्यावरण की रक्षा हो सके।

इंकजेट प्रिंटर

इंकजेट प्रिंटर उच्च गति से कागज़ की सतह पर स्याही को स्प्रे करते हैं। यह प्रक्रिया विभिन्न रंगों के उच्च गुणवत्ता वाले चित्र उत्पन्न करती है, जो तस्वीरों की प्रिंटिंग के लिए आदर्श होते हैं। इंकजेट प्रिंटर अपेक्षाकृत सस्ते होते हैं और सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल किये जाने वाले प्रिंटर होते हैं। इसके अलावा. वे विश्वसनीय होते हैं और कोई आवाज नहीं करते। इंकजेट प्रिंटर का सबसे महंगा पहलू स्याही का काट्रिज बदलना है। इस कारण से, अधिकांश उपयोगकर्ता प्रिंटिंग के लिए काली स्याही को निर्दिष्ट करते हैं और चुनिंदा अनुप्रयोगों के लिए और अधिक महंगे रंगीन प्रिंट का उपयोग करते हैं। विशिष्ट इंकजेट प्रिंटर एक मिनट में 15 से 19 केवल काले और 13 से 15 रंगीन पेजों का आउटपुट करते हैं।

लेज़र प्रिंटर

लेज़र प्रिंटर एक ऐसी प्रौद्योगिकी का उपयोग करता है, जिसे एक फोटोकॉपी मशीन में इस्तेमाल किया जाता है। लेज़र प्रिंटर उत्कृष्ट अक्षर और ग्राफिक्स की गुणवत्ता के साथ छवियों का निर्माण करने के लिए एक लेज़र प्रकाश बीम का उपयोग करता है। ये इंकजेट प्रिंटर की तुलना में अधिक महंगा होता है, लेजर प्रिंटर तेजी से काम करते हैं और उच्च गुणवत्ता के उत्पादन की आवश्यकता के अनुप्रयोगों में इस्तेमाल किये जाते हैं। लेजर प्रिंटर की दो श्रेणियां होती हैं। निजी लेजर प्रिंटर्स कम महंगे होते हैं और एक ही उपयोगकर्ता द्वारा उपयोग में लाये जाते हैं। वे आमतौर पर एक मिनट में 15 से 17 पेजों को प्रिंट कर सकते हैं। साझा लेज़र प्रिंटर आमतौर पर, रंग का समर्थन करने वाले, अधिक महंगे और उपयोगकर्ता के एक समूह (साझा) द्वारा इस्तेमाल किये जाते हैं। साझा लेज़र प्रिंटर आमतौर पर एक मिनट में 50 से अधिक पेजों के प्रिंट निकाल सकता है।

Spread the love

Leave a Comment