पोर्ट्स कितने प्रकार के होते हैं

पोर्ट्स से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां

पोर्ट

सिस्टम यूनिट से जोड़े जाने वाले बाहरी उपकरणों के लिए सॉकेट होता है। कुछ पोर्ट सीधे सिस्टम बोर्ड से कनेक्ट करते हैं, जबकि अन्य उन कार्ड से जुड़े होते हैं जो सिस्टम बोर्ड में बने स्लॉट्स में लगाई जाती है। कुछ पोर्ट, अधिकाश कंप्यूटर सिस्टमों में मानक विशेषता हैं, जबकि कुछ अन्य अधिक विशिष्ट होते हैं।

मानक पोर्ट

अधिकांश डेस्कटॉप और लैपटॉप कंप्यूटरों में मॉनीटर, कीबोर्ड व अन्य पेरिफेरल उपकरण जोड़ने के लिए पोर्ट्स का एक मानक सेट दिया होता है। सबसे सामान्य स्पोर्ट्स के बारे में नीचे दिया गया है।

  1. यूनिवर्सल सीरियल बस (यूएसबी) पोर्ट सिस्टम यूनिट में अनेक उपकरण जोड़ने के लिए प्रयोग किए जा सकते हैं और कीबोर्ड, माउस, प्रिंटर, स्टोरेज डिवाइस तथा विविध प्रकार के स्पेश्यिलिटी उपकरण जोड़ने के लिए व्यापक रूप से उपयोग किए जाते हैं। यूएसबी टीवी ट्यूनर कार्ड ऐसा ही एक उपकरण है जिससे उपयोक्ताओं को टेलीविजन प्रोग्राम देखने व रिकॉर्ड करने की सुविधा मिलती है। एक अकेला यूएसबी पोर्ट अनेक यूएसबी उपकरणों को सिस्टम यूनिट में जोड़ने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।
  2. हाई डेफिनिशन मल्टीमीडिया इंटरफेस (एचडीएमआई) पोर्ट ये हाई डेफिनिशिन वीडियो और ऑडियो की सुविधा देते हैं, जिससे कंप्यूटर को वीडियो ज्यूकबॉक्स या एक एचडी वीडियो रिकॉर्डर के रूप में उपयोग करना संभव बनता है।
  3. थंडरबोल्ट पोर्टस, सबसे पहले एपल के मैकबुक प्रो कंप्यूटर में पेश किए गए ये पोर्ट तेज गति वाले कनेक्शन प्रदान करते हैं। एक अकेला पोर्ट, परस्पर जुड़े सात तक उपकरणों से जुड़ सकता है। थंडरबोल्ट पोर्ट मिनी डिसप्ले पोर्ट सहित अनेक प्रकार के पोर्ट्स का स्थान लेने की क्षमता रखते हैं।
  4. इंटरनेट पोर्टल ये तेज़ गति वाले नेटवर्किंग पोर्ट होते हैं जो आज के अनेक कंप्यूटरों में मानक बन गए हैं। इंटरनेट से आप फ़ाइलें साझा करने के लिए अनेक कंप्यूटर जोड़ सकते हैं या तेज़ गति वाले इंटरनेट तक पहुंचने के लिए डीएसएल या केवल मॉडम जोड़ सकते हैं।

स्पेश्लाइज़्ड पोर्ट

मानक पोर्ट के अलावा, कई तरह के स्पेशलाइज पोर्ट भी होते हैं। इनमें से सबसे प्रचलित निम्न हैं :-

  1. एक्सटर्नल सीरीज़ एडवांस्ड टेक्नोलॉजी अटैचमेन्ट (ई-साटा) पोर्ट्स बाहरी हार्ड डिस्क ड्राइव, ऑप्टिकल डिस्क, और अन्य बड़े दूसरे स्टोरेज उपकरणों के लिए तेज गति वाले कनेक्शन उपलब्ध कराता है।
  2. म्यूजिकल इंस्टूमेन्ट डिजिटल इंटरफेस (एमआईडीआई) पोर्ट्स संगीत उपकरणों, जैसे कि इलेक्ट्रॉनिक कीबोर्ड को साउंड कार्ड से जोड़ने के लिए विशेष प्रकार के पोर्ट होते हैं। साउंड कार्ड, संगीत को डिजिटल निर्देशों की एक श्रृंखला में बदल देता है ये निर्देश तुरंत प्रोसेस करके संगीत उत्पन्न किया जा सकता है या बाद में प्रोसेसिंग के लिए फाइल में सहेजा जा सकता है।
  3. मिनी डिसप्ले पोर्ट (मिनीडीपी या एमडीपी) पोट्स ऑडियो विजुअल पोर्ट होते हैं जो आमतौर से बड़े मॉनीटर जोड़ने के लिए उपयोग किए जाते है। ये पोर्ट अनेक एप्पल मैक जोश कंप्यूटरों में उपयोग किए जाते हैं।
  4. वीजीए (वीडियो ग्राफिक्स एडाप्टर) और डीवीडी (डिजिटल वीडियो इंटरफेस) पोट्स ये क्रमशः एनालॉग और डिजिटल मॉनिटर को कनेक्शन प्रदान करते हैं। डीवीआई सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला मानक बन गया है, लेकिन पुराने सस्ते मॉनिटर की अनुकूलता के लिए वीजीए पोर्ट्स अभी भी लगभग सभी सिस्टमों में दिए जा रहे है।
  5. फायरवायर पोर्ट्स स्पेश्लाइन्ड फायरवायर उपकरणों जैसे कि कैमकॉर्डर और स्टोरेज उपकरणों के लिए तेज गति वाले कनेक्शन उपलब्ध कराते हैं।

केबल

बाहरी उपकरणों को पोर्ट के माध्यम से सिस्टम यूनिट से जोड़ने के लिए केबल उपयोग को जाती हैं केवल का एक सिरा उपकरण में जुड़ा होता है, और दूसरे सिरे पर एक कनेक्टर होता है, जो पोर्ट पर मिलान वाले कनेक्शन से जुड़ता है।

पोर्ट्स से संबंधित वीडियो आप यूट्यूब पर देखना चाहते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल को यूट्यूब पर सर्च करके या डायरेक्ट नीचे दिए गए YouTube चैनल के लिंक से देख सकते हैं।

Spread the love

Leave a Comment